25.1 C
New Delhi
Thursday, September 16, 2021

लव जिहादः हॉस्पिटल से बुर्का पहनाकर लड़की का किया अपहरण, जाट समुदाय में आक्रोश

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img

नई दिल्ली। उत्‍तर प्रदेश के आगरा में बदमाश ने एक नाबालिग लड़की को फिल्‍मी अंदाज में हॉस्पिटल से अगवा कर लिया। इसी मामले में एक बार वह जेल भी जा चुका है। इस बार उसने लड़की को गायब करने के लिए बिल्‍कुल अलग तरीका अख्तियार किया। बुआ के साथ दवा लेने हॉस्पिटल आई लड़की को उसने बुर्का पहनाया और अपने साथ बड़े आराम से लेकर निकल गया। इस दौरान साथ आई बुआ हॉस्पिटल पर बैठी इंतजार करती रह गई।

सीसीटीवी फुटेज में लड़की बिना किसी दबाव के साथ उसके साथ जाते दिख रही है। चूंकि वह नाबालिग है, इसलिए उसकी स्वीकृति मायने नहीं रखती। परिवारवालों के मुताबिक उसका अपहरण करने वाले शख्‍स का नाम मेहताब है। वह मेरठ का रहने वाला है। पुलिस मेहताब की तलाश में मेरठ समेत अन्य जगहों पर दबिश दे रही है। परिवारवालों ने पुलिस को बताया कि लड़की की उम्र 17 वर्ष है। मंगलवार को वह तारागंज क्षेत्र स्थित अपने घर से दयालबाग स्थित हॉस्पिटल में अपनी बुआ के साथ दवा लेने आई थी। बुआ हॉस्पिटल में बैठी रही और किशोरी गायब हो गई। घरवालों ने मेरठ के मेहताब राणा पर आरोप लगाया। कहा कि वही उनकी बेटी को उठाकर ले गया है। उसने इंटरनेट कॉल करके धमकी भी दी थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखे। उसमें आरोपित मेहताब राणा ही निकला। किशोरी बुर्का पहनकर उसके साथ जाते हुए दिख रही थी।

एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि लड़की के पिता होटल कर्मचारी हैं। मेरठ निवासी मेहताब राणा भी उसी होटल में नौकरी किया करता था। वर्ष 2018 में उसने पहली बार किशोरी का अपहरण किया था। पुलिस मेरठ से उसके भाई को उठा लाई थी। दबाव में मेहताब के घरवालों ने किशोरी को मेरठ के एक थाने में पुलिस के सुपुर्द किया था। उसके कोर्ट में बयान दर्ज हुए थे। पुलिस ने बयानों के आधार पर पोक्सो और दुराचार की धारा बढ़ाई थी।

इस घटना के कुछ माह बाद आरोपित दूसरी बार किशोरी का अपहरण करके ले गया था। पुलिस ने किशोरी और आरोपित को पकड़ा था। आरोपित के पास उस समय हाईकोर्ट से गिरफ्तारी पर रोक का स्टे था। पुलिस ने पहले उस स्टे को खारिज कराया था। उसके बाद आरोपित को पकड़कर जेल भेजा था। दो साल बाद तीसरी बार आरोपित किशोरी को अपने साथ ले गया है।

विवाहित है आरोपी
पुलिस के अनुसार मेहताब विवाहित है। वह आगरा में धांधूपुरा इलाके में किराए पर रह चुका है। आगरा के चप्पे-चप्पे से वाकिफ है। पहले मुकदमे में उसके दो ससुरालीजनों को भी आरोपित बनाया गया था। वे ही किशोरी को मेरठ में एक थाने में पुलिस के सुपुर्द करके गए थे। तीसरी बार किशोरी मेहताब के साथ गई है।

मेरठ में दी दबिश 
नाबालिग लड़की के अपहरण के मामले में आगरा पुलिस ने गुरुवार को मेरठ में दबिश दी। न लड़की मिली, न अपहर्ता। पुलिस ने आरोपी की पत्नी-भाभी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। आरोपी मेहताब राणा मेरठ में भावनपुर थाना क्षेत्र के रसूलपुर औरंगाबाद गांव का रहने वाला है।

पहला मुकदमा चल रहा है लंबित
पूरे प्रकरण में ताजगंज पुलिस की लापरवाही भी उजागर हुई है। वर्ष 2018 में मेहताब राणा के खिलाफ जो मुकदमा दर्ज हुआ था, उसमें वह जेल गया था। इस मुकदमे में पुलिस ने दानेश सहित दो नामों की बढ़ोत्तरी की थी। इन दोनों की गिरफ्तारी आज तक नहीं हुई है। इतना ही नहीं दूसरी बार किशोरी का अपहरण हुआ तो उसका मुकदमा तक दर्ज नहीं किया गया था।

- Advertisement -spot_imgspot_img

Latest news

- Advertisement -spot_img

Related news

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here